नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री या आरएसएस के - InspectSpot Media

-->

Saturday, December 28, 2019

नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री या आरएसएस के

नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री या आरएसएस के

नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री या आरएसएस के
राहुल गांधी ने ट्विटर पर बीबीसी न्यूज़ का एक वीडियो शेयर किया और कहा, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश में डिटेंशन केंद्रों के अस्तित्व पर झूठ बोला था, इसके बावजूद कि भाजपा ने कांग्रेस नेता के बयान को झूठ बताया। वीडियो का कैप्शन था "आरएसएस के प्रधानमंत्री भारत माता से झूठ बोलते हैं"

नरेंद्र मोदी देश के प्रधानमंत्री या आरएसएस के


गुरुवार को राहुल गांधी द्वारा एक वीडियो ट्वीट किया गया, वीडियो में असम में एक डिटेंशन  केंद्र की ओर जाने वाली सड़क है और मोदीजी के भाषण में भारत में इस तरह के शिविरों के अस्तित्व से इनकार किया गया है।

ये सब तो ठीक है किन्तु जो राहुल गाँधी ने वीडियो के साथ टैग लाइन दी वो किसी राष्ट्र के प्रति सही नहीं थी। देश के प्रधानमंत्री को किसी पार्टी या समुदाय से जोड़ना उचित नहीं है। वीडियो पोस्ट के साथ उन्होंने लिखा था "आरएसएस के प्रधानमंत्री भारत माता से झूठ बोलते हैं।"

राहुल गांधी ने शनिवार को प्रेसवार्ता में दोहराया कि "मैंने एक वीडियो ट्वीट किया है जिसमें नरेंद्र मोदी कह रहे हैं कि भारत में कोई डिटेंशन केंद्र नहीं हैं, और उसी वीडियो में एक डिटेंशन  केंद्र के दृश्य हैं, इसलिए आप तय करते हैं कि कौन झूठ बोल रहा है," राहुल  ने संवाददाताओं से कहा उनकी इस प्रतिक्रिया से भाजपा उन्हें "वर्ष का झूठा" कह रही है।

गुरुवार को उनके द्वारा ट्वीट किया गया, वीडियो में असम में एक डिटेंशन  केंद्र की ओर जाने वाली सड़क है और मोदीजी के भाषण में भारत में इस तरह के शिविरों के अस्तित्व से इनकार किया गया है।

इस सप्ताह की शुरुआत में राष्ट्रीय राजधानी में एक सार्वजनिक संबोधन में, मोदीजी ने कहा था: "न तो भारत में कोई डिटेंशन केंद्र है और न ही किसी भारतीय मुस्लिम को इसमें भेजा जाएगा।"

भाजपा के प्रवक्ता संबित पात्रा ने कांग्रेस नेता को "झूठे लोगों का सरदार" बताते हुए उन्हें फटकार लगाई। पार्टी ने कांग्रेस पर नजरबंदी(डिटेंशन) केंद्रों के निर्माण पर गलत सूचना फैलाने का आरोप लगाया था।

शुक्रवार को राहुल गांधी ने एनआरसी और एनपीआर को देश के गरीब लोगों पर हमला करार देते हुए कहा कि यह उन पर कर लगाने के समान था।

इस पर, केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने राहुल गांधी पर झूठ बोलने का आरोप लगाया और कहा कि वह 2019 के "वर्ष के झूठे" उम्मीदवार हैं।

जावड़ेकर ने कहा, "राहुल गांधी ने झूठ बोलना जारी रखा है। वह 2019 के झूठ के लिए उम्मीदवार हैं। इससे पहले, बस एक परिवार उनके झूठ से परेशान था, लेकिन अब पूरी कांग्रेस पार्टी और लोग इससे परेशान हैं।"

Read other related articles

Also read other articles

© Copyright 2019 InspectSpot Media | All Right Reserved